ट्रीज कार्यक्रम
भू पारिस्थितकी तंत्र में प्रशिक्षण और अनुसंधान
भू पारिस्थितिकी तंत्र अनुसंधान तथा प्रशिक्षण प्रभाग वेदास अनुसंधान समूह (वीआरजी)

अंतरिक्ष उपयोग केंद्र, इसरो का ट्रीज (भू पारिस्थितकी तंत्र में प्रशिक्षण और अनुसंधान) कार्यक्रम भू पारिस्थितकी तंत्र के अनुप्रयोगों को विद्यार्थियों, शिक्षाविदों और अनुसंधानकर्ताओं के बीच बढ़ावा देने की पहल है


परिचय :इसरो ने आईआरएस, रिसोर्सैट, कार्टोसैट और आरआईसैट जैसे ध्रुवकक्षी सुदूर संवेदन उपग्रहों की श्रृंखला प्रमोचित की है। इन उपग्रहों के संवेदक अलग-अलग प्रकार के विभेदन और डेटा प्रकार वाले हैं। मध्यम विभेदन संवेदक एडब्ल्यूआईएफएस, लिस-III और उच्च विभेदन संवेदक लिस-IV, कार्टोसैट-1 और कार्टोसैट-2, आदि में हैं। इनका पुरालेख डेटा अनुसंधान कार्यक्रम भू डेटा एवं पुरालेख प्रणाली का दृश्यीकरण (वेदास) के अंतर्गत उपलब्ध है।

उद्देश्य :ये अनुसंधान और प्रशिक्षण कार्यक्रम स्नातक और स्नातकोत्तर विद्यार्थियों, अनुसंधान तथा विकास संस्थानों के अनुसंधानकर्ताओं और शिक्षाविदों को ध्यान में रखकर तैयार किए गए हैं। इसका मुख्य क्षेत्र सुदूर संवेदन के अनुप्रयोग होंगे। वेदास के डेटाबेस में उपलब्ध डेटा को स्रोत्र के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा।

हम विद्यार्थियों, शिक्षाविदों और अनुसंधानकर्ताओं को निम्नलिखित सहायता प्रदान करते हैं
1. वेदास से परिचय
2. विशाल नेटवर्क स्टोरेज पर उपलब्ध वेदास डेटाबेस पर भू डेटा का उन्नत दृश्यीकरण
3. वेदास कंप्यूटर वर्कस्टेशनों, प्रतिबिंब संसाधनों और जीआईएस सॉफ्टवेयर तक अभिगम
4. डेटा विश्लेषण
5. अनुसंधान मार्गदर्शन

दी जा रही सुविधाएँ : सैक में अत्याधुनिक वर्कस्टेशन, डिस्प्ले सिस्टम, वेदास डेटा और नेटवर्क स्टोरेज सुविधा से लैस एक समर्पित अनुसंधान और प्रशिक्षण प्रयोगशाला स्थापित की गई है। साथ ही, सैक में उनकी कार्य अवधि के दौरान उन्हें सैक कैंटीन और पुस्तकालय सुविधा का लाभ भी दिया जाएगा।

सहभागिता के लिए कॉल करें : छात्रों, शिक्षाविदों और शोधकर्ताओं से अनुसंधान पहल कार्यक्रमों के लिए आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं। इच्छुक उम्मीदवार वेबसाइट पर उपलब्ध फार्म भरकर आवेदन कर सकते हैं तथा इसे आगे अपने संबंधित विभाग/संस्था के प्रधान के माध्यम से प्रधान ईआरटीडी/वीआरजी/ईपीएसए, सैक को अग्रेषित करें। आवेदन साल भर स्वीकार किए जाते हैं। सैक में किए गए कार्य से प्राप्त पेटेंट, कॉपीराइट, आईपीआर सैक और अन्य प्रासंगिक संस्थान के हिस्सा होंगे।

संपर्क करें :
आवेदन निम्न पते पर मेल किए जाएँ
प्रधान
भू-पारिस्थितिकी तंत्र अनुसंधान एवं प्रशिक्षण प्रभाग (ERTD),
भू डाटा और अभिलेखीय प्रणाली के दृश्य (वेद) अनुसंधान समूह (VRG)
भू, सागर, वायुमंडल ग्रह विज्ञान और अनुप्रयोग क्षेत्र (EPSA),
अंतरिक्ष उपयोग केंद्र (सैक), डीपीएस स्कूल के सामने, बोपल कैंपस
अहमदाबाद 380058, भारत
फ़ोन: +91-79-26916222/6224 (का.)
फैक्स: +91-79-26916287
ईमेल: trees[at]sac.isro.gov.in
वेबसाइट: vedas.sac.gov.in